सवागत है

आपका "आज का आगरा" ब्लॉग पर सवागत है यह ब्लॉग मेरे मम्मी-पापा को समर्पित!..."वन्दे मातरम्" .सवाई सिंह

फ़ॉलोअर

आप का लोक प्रिय ब्लॉग आज का आगरा अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



मंगलवार, मई 31

फ़िक्र" करने वालों को तो "आपको" ही पहचानना होगा

 "तारीफ़" करने वाले बेशक़ "आपको" पहचानते होंगे,
मगर "फ़िक्र" करने वालों को तो 
"आपको" ही पहचानना होगा।






शुक्रवार, मई 20

जीवन में खुश रहना चाहते हैं तो अकेले रहिए

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सभी आशा करता हूं आप सब बहुत ही अच्छे होंगे आज की पोस्ट में अपने अनुभव के आधार पर लिखने जा रहा हूं जैसा मैंने अपनी कम उम्र में जो मैंने देखा समझा वही सब कुछ मैं आज आपके साथ साझा करने जा रहा हूं। हो सकता है आपके विचार इससे भिन्न हो तो मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें...

जीवन में हमेशा ऊपरी शक्तियों पर विश्वास रखिए वह कभी भी आप को अकेला महसूस नहीं होने देगा और जब इस धरती पर हम आए अकेले हैं तो फिर अकेले लेने रहने में हर्ज ही क्या है कोई हमारा दुख कैसे बढ़ सकता है जब हमारा शारीरिक पीड़ा को हमें खुद को सहन करना है तो मानसिक पीड़ा को कोई और कैसे बांट सकता है मानसिक पीड़ा तो किसी को दिखाई भी नहीं देती सोचने वाली बात है हम कई बार ऐसी बातों के लिए तनाव लेते हैं इसलिए जीवन में सबसे अच्छा दोस्त आप खुद बन जाए तो कौन आपको दुख दे सकता है हट कर पाएगा दुखी कर पाएगा सोचिए आप का सबसे बड़ा हमदर्द आप ही बन जाए तो तो जीवन में कोई आपको दुखी नहीं कर पाएगा सोचिए कि आप ही अपने सहयोगी बन गए तो कौन आप को गिरा सकता है सब कुछ आपके आत्मविश्वास पर निर्भर करता है आप जब परेशान होते हैं तो आपको लगता है कि कोई आएगा और मेरे दुख को कम करेगा मेरे दुख को बांटे का तो यह सिर्फ गलतफहमी है क्योंकि यह दुनिया मतलबी है वह आपके दुख को बांटने आएगा भी तो उसका कहीं ना कहीं कोई मतलब जरूर होगा चाहे वह आपका दोस्त हो या फिर कोई पराया यह बात हम जितना जल्दी समझ जाएंगे उतना हमारे लिए अच्छा होगा हमारे जीवन के लिए अच्छा होगा आज से ही अगर हम यह संकल्प ले लें कि कुछ भी हो जाए हमें जीवन तो अकेले ही बिताना है अकेले ही लड़ना है अकेले ही खुश रहना है उस दिन हमारा जीवन बहुत ही अच्छा होने लगेगा। प्रभु की भक्ति में विश्वास रखिए। इसी के साथ आज के लिए अपनी वाणी को यहीं विराम देता हूं कल किसी नए टॉपिक के साथ आपके साथ आऊंगा तब तक के लिए धन्यवाद चलते चलते आज का अनमोल विचार....


प्रार्थना इलाज नहीं करती लेकिन पीड़ा और
दुःख के दिनों में..
लड़ने की और लड़ते रहने की सकारात्मक
शक्ति जरूर प्रदान करती है!

प्ररम कृपालु प्रभु आपका दिन मंगलमय रखे.. 

आपका सवाई सिंह राजपुरोहित एसएम सीरीज 3 

सोमवार, मई 16

तीन संस्कार जो आपको अच्छा इंसान बनाएंगे

 3 अच्छे संस्कार ~

1. अगर आपका कॉल एक बार में ना उठे तो बार बार कॉल ना करें हो सकता है सामने वाला बिजी हो।

2. अगर आपको कोई होटल में खाना ऑफर करे तो अपनी पसंद का नहीं बल्कि उनकी पसन्द का खाना मंगवायें।

3. अगर आपको कोई अच्छा इंसान समझ कर उधार दे तो समय रहते उसे पैसा चुका दें ।

मेरी शिक्षा में अहम योगदान......

कल का दिन बहुत ही अहम था मेरे लिए कल बहुत समय बाद मुझे अपने स्कूल टाइम के टीचर से मिलने का मौका मिला यह किसी सौभाग्य से कम नहीं था। मेरे लिए क्योंकि आज जो मैं लिख पा रहा हूं या जो कुछ करने का प्रयास कर रहा हूं ब्लॉग के माध्यम से उनका सारा श्रेय श्रीमती लता शर्मा जी धर्मपत्नी श्रीमान योगेश शर्मा जी जाता है आप अगर मुझे शिक्षा के प्रति मेरे अंदर रूचि पैदा नहीं करते तो शायद मैं ज्यादा नहीं पढ़ पाता आज मैंने पोस्ट ग्रेजुएशन किया हूं जो सिर्फ आप की ही बदौलत है आपने मुझे सदैव अपने बेटे की तरह माना है आज भी एक पारिवारिक सदस्य के रूप में मुझे देखती हैं परिवार में होने वाले हर छोटे-मोटे प्रोग्राम में मुझे आमंत्रण मिलता है यह सिर्फ आपका प्यार है और मेरा सौभाग्य है समय-समय पर मुझे आपका मार्गदर्शन भी मिलता रहता है आगे भी ऊपर वाले से यही दुआ करता हूं कि मुझे आपका मार्गदर्शन सदैव मिलता रहे।



अपनी टिप्पणी

अपनी टिप्पणी के साथ चित्र भी भेजें
[im] चित्र भेजने के लिए कोड इस प्रकार लिखें [/im]
[ma] टिप्पणी को चलते हुए दिखाएं इस कोड से [/ma]
[co="red"] रंगीन टिप्पणी लिए कोड इस प्रकार लिखें [/co]
[si="5"] टिप्पणी बड़े फाँट साईज में करने के लिए कोड [/si]
[card="yellow"] टिप्पणी की बैकग्राउंड बदलने के लिए कोड [/card]

[hi="yellow"] टिप्पणी के कुछ हिस्से को हाईलाईट करने के लिए ये कोड [/hi]

आप उपरोक्त सभी प्रकार के उदाहरण देखने के लिए यहाँ पर कलिक करें |

लिखिए अपनी भाषा में

Subscribe(सदस्यता लें)

Recommend on Google

सवाई सिंह को ब्लॉग श्री का खिताब मिला(उतराखंड से )