सवागत है

आपका "आज का आगरा" ब्लॉग पर सवागत है यह ब्लॉग मेरे मम्मी-पापा को समर्पित!..."वन्दे मातरम्" .सवाई सिंह

समर्थक

आप का लोक प्रिय ब्लॉग आज का आगरा अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



Widget by:Manojjaiswal

अवलोकन हेतु यहाँ प्रतिदिन पधारे !!

LATEST:

विजेट आपके ब्लॉग पर

मंगलवार, अगस्त 30

पूज्य माता जी की पुण्य तिथि पर सादर श्रद्धांजलि और सुगना फाउंड़ेशन स्थापना पर..


किसी ने ठीक कहा है!  

यू तो दुनिया में सदा रहने कोई नहीं आता है! 
आप जैसे गई इस तरह कोई नहीं जाता है! 
इस उपवन् का दायित्व सौंपकर इतनी जल्दी संसार से कोई नही जाता है!  
  इन्ही शब्दो साथ पूज्य माता जी की 3 वी पुण्य तिथि पर सादर श्रद्धांजलि  

 "माँ की ममता कौन भुला सकता है,
  और कौन भुला सकता है वो प्यार,
किस तरह बताए माँ के बिना कैसे जी रहए हम"
मै और मेरा सम्पूर्ण परिवार श्रद्धा सुमन उन्हें अर्पित करते है!
                            सुगना फाऊंडेशन मेघालासिया का परिचय
ये मेरी माताजी {स्व० श्रीमती सुगना कंवर} की याद में बनाया गया है जिनका स्ग्वास 1 सितम्बर 2008{हिन्दी माह वि० स० 2065 भादवा सुदी द्वितीया ) हो गया था!
"हैम्स ओसिया इन्स्टिट्यूट" के द्वारा इनकी "प्रथम पुण्य तिथि सन् 2009 पर "सुगना फाउंड़ेशन "मेघालासिया" की स्थापना कि गई बाकी जो कारया माता जी करना चाहती थी उन कार्यो को अब "सुगना फाउंड़ेशन" का हर सदस्य एंव कार्यकर्ता करे! इसी उद्देश्य से स्थापना की गई है !   
  
सूचना
   आज कार्यक्रम है
 
  आज "सुगना फाउंड़ेशन मेघालासिया" के स्थापना पर राजपुरोहित हेअलथ केयर सिस्टम्स - आगरा  और हैम्स ओसिया इन्स्टिट्यूट- ओसिया की ओर से हर साल आयोजित होने वाला कार्यक्रम "श्री बाबा रामदेव जी महाराज" के जन्म महोत्सव में पैदल यात्रियो के लिए फलाहार एंव मेडिकल सेवाएँ और इसके तहत ग्रामीण विद्यार्थियो के लिए ज्ञान प्रसार की पवित्र भावना से निः शुल्क स्टेशनरी सामग्री का वितरण और विद्यार्थियो तथा समाज में जो विशेष योगदान करने वाले लोगो को सम्मानित भी किया जाएगा इसमें कई पुरूस्कार शामिल है!   
पूज्य माता जी आज हमारे बीच नहीं हैं
 फिर भी उनकी दी हुई शिक्षा और आदर्श हमारा मार्ग दर्शन करती रहेगे!!
     आज का अनमोल वचन

"जब को व्यक्ति अहिंसा की कसौटी पर पूरा उतर जाता है तो अन्य व्यक्ति स्वयं ही उसके पास आकर बैर भाव भूल जाता है!" 
 पतंजलि
 *****
 "माता, पिता, गुरु, स्वामी, भ्राता, पुत्र और मित्र का कभी क्षण भर के लिए विरोध या अपकार नहीं करना चाहिए
शुक्रनीति
****
"कर्मो की आवाज़ शब्दों से ऊंची होती है
कहावत 
    

10 टिप्‍पणियां:

  1. माता जी को विनम्र श्रद्धांजलि !

    उत्तर देंहटाएं
  2. सवाई सिंह जी आपकी पूज्य माता जी को हमारी भी श्रद्धांजलि

    उत्तर देंहटाएं
  3. पूज्य माता जी को हमारी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हु जिनका मुज पर काफी ऐसा है!

    उत्तर देंहटाएं
  4. पूज्य माता जी आज हमारे बीच नहीं हैं
    फिर भी उनकी दी हुई शिक्षा और आदर्श हमारा मार्ग दर्शन करती रहेगे!!
    aapki bat sahi hai

    उत्तर देंहटाएं
  5. बेनामी8/30/2011 05:02:00 pm

    इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बेनामी8/30/2011 05:04:00 pm

    पूज्य माता जी को हमारी भी श्रद्धांजलि

    उत्तर देंहटाएं
  7. माता जी को विनम्र श्रद्धांजलि !

    उत्तर देंहटाएं
  8. हमने भी अनुसरण कर लिया

    उत्तर देंहटाएं
  9. पूज्य माता जी को विनम्र श्रद्धांजली

    उत्तर देंहटाएं
  10. हमारे दु:ख में आपका साथ मिला आभार

    उत्तर देंहटाएं

अपनी टिप्पणी

अपनी टिप्पणी के साथ चित्र भी भेजें
[im] चित्र भेजने के लिए कोड इस प्रकार लिखें [/im]
[ma] टिप्पणी को चलते हुए दिखाएं इस कोड से [/ma]
[co="red"] रंगीन टिप्पणी लिए कोड इस प्रकार लिखें [/co]
[si="5"] टिप्पणी बड़े फाँट साईज में करने के लिए कोड [/si]
[card="yellow"] टिप्पणी की बैकग्राउंड बदलने के लिए कोड [/card]

[hi="yellow"] टिप्पणी के कुछ हिस्से को हाईलाईट करने के लिए ये कोड [/hi]

आप उपरोक्त सभी प्रकार के उदाहरण देखने के लिए यहाँ पर कलिक करें |

लिखिए अपनी भाषा में

Subscribe(सदस्यता लें)

Recommend on Google