सवागत है

आपका "आज का आगरा" ब्लॉग पर सवागत है यह ब्लॉग मेरे मम्मी-पापा को समर्पित!..."वन्दे मातरम्" .सवाई सिंह

समर्थक

आप का लोक प्रिय ब्लॉग आज का आगरा अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



Widget by:Manojjaiswal

अवलोकन हेतु यहाँ प्रतिदिन पधारे !!

LATEST:

विजेट आपके ब्लॉग पर

शनिवार, मई 26

ज्ञानी जन विवेक से सीखते हैं..

 ज्ञानी जन विवेक से सीखते हैं, साधारण मनुष्य अनुभव से, अज्ञानी पुरुष आवश्यकता से और पशु स्वभाव से!
 कौटिल्य 
*********
 अधर्म की सेना का सेनापति झूठ है। जहाँ झूठ पहुँच जाता है वहाँ अधर्म-राज्य की विजय-दुंदुभी अवश्य बजती है!
स्वामी सुदर्शनाचार्य जी, 

!!आपका स्वागत है!! !!यहाँ पर भी आयें!!
आप से निवेदन है इस लेख पर आपकी बहुमूल्य प्रतिक्रिया दे.

दूसरा ब्रम्हाजी मंदिर आसोतरा में जिला बाडमेर ...:- भगवान ब्रह्मा हिन्दू त्रय के प्रमुख भगवान है. अन्य दो भगवान विष्णु और भगवान महेश हैं. ब्रह्मा सृष्टि का स्वामी है! पुष्कर में ब्रह्मा का .

http://rajpurohitsamaj-s.blogspot.in/2012/05/blog-post_21.html
पोस्ट को पढने के लिए यहाँ क्लिक करें...
आपका ही सवाई सिंह राजपुरोहित

18 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत उम्दा प्रस्तुति...बहुत बहुत बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके स्नेह के लिए आभार साथ ही प्रतिक्रिया हेतु ....

      हटाएं
  2. @ज्ञानी जन विवेक से सीखते हैं, साधारण मनुष्य अनुभव से, अज्ञानी पुरुष आवश्यकता से और पशु स्वभाव से!

    बहुत सुन्दर!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके स्नेह के लिए आभार साथ ही प्रतिक्रिया हेतु ....

      हटाएं
  3. बहुत सुन्दर.............आभार

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके स्नेह के लिए आभार साथ ही प्रतिक्रिया हेतु ....

      हटाएं
  4. बहुत सार्थक प्रस्तुति....

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद और आभार आप का अपना स्नेह बनाये रखें

      हटाएं
  5. ज्ञानी जन विवेक से सीखते हैं, साधारण मनुष्य अनुभव से, अज्ञानी पुरुष आवश्यकता से और पशु स्वभाव से!
    बहुत ही बहुमूल्य वचन ....................

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपके स्नेह के लिए आभार साथ ही प्रतिक्रिया हेतु ....

      हटाएं
  6. Very nice post.....
    Aabhar!
    Mere blog pr padhare.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद और आभार आप का अपना स्नेह बनाये रखें

      हटाएं
  7. अब समझ आया ब्रह्मा जी का मंदिर पुष्कर के अलावा बाड़मेर में भी है और इसीलिए ब्रह्मा कुमारीज़ ईश्वरीय विश्व -विद्यालय का मुख्यालय राजस्थान के माउंट आबू में है
    देश में फिल वक्त विधर्मी विषकन्या का ही शाशन है आपने इसे अधर्म शाशन कह दिया है .शुक्रिया ....झूंठ ही पल्लवित हो रहा है इस तंत्र में तभी तो सारे के सारे काबिना मंत्री भर्ष्टाचार के निशाने पे आ गएँ हैं .जय अन्ना .....
    और यहाँ भी दखल देंवें -
    ram ram bhai
    सोमवार, 28 मई 2012
    क्रोनिक फटीग सिंड्रोम का नतीजा है ये ब्रेन फोगीनेस
    http://veerubhai1947.blogspot.in/

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद और आभार आप का अपना स्नेह बनाये रखें

      हटाएं
  8. आपका ब्लॉग मुफ्त ज्ञान बाँटता है. सुंदर प्रस्तुति. आपका आभार.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. धन्यवाद और आभार आप का अपना स्नेह बनाये रखें

      हटाएं

अपनी टिप्पणी

अपनी टिप्पणी के साथ चित्र भी भेजें
[im] चित्र भेजने के लिए कोड इस प्रकार लिखें [/im]
[ma] टिप्पणी को चलते हुए दिखाएं इस कोड से [/ma]
[co="red"] रंगीन टिप्पणी लिए कोड इस प्रकार लिखें [/co]
[si="5"] टिप्पणी बड़े फाँट साईज में करने के लिए कोड [/si]
[card="yellow"] टिप्पणी की बैकग्राउंड बदलने के लिए कोड [/card]

[hi="yellow"] टिप्पणी के कुछ हिस्से को हाईलाईट करने के लिए ये कोड [/hi]

आप उपरोक्त सभी प्रकार के उदाहरण देखने के लिए यहाँ पर कलिक करें |

लिखिए अपनी भाषा में

Subscribe(सदस्यता लें)

Recommend on Google